Job interview tips and tricks

In this article we are going to discuss job interview tips and tricks in hindi. Hope you like it.

interview tips and tricks

Job interview tips and tricks

interview tips and tricks समझने से पहले, आइये इंटरव्यू शब्द को समझने की कोशिश करते हैं।

इंटरव्यू शब्द कहा से आया ?

दरअसल इंटरव्यू शब्द यूनान से आया है जिसका अर्थ होता है – मुखौटा। प्राचीन यूनान में नाटकों की बहुत समृद्ध परंपरा थी।

उस समय नाटकों के पात्र, जरूरत के अनुसार अपने चेहरों पर मुखौटा लगाते थे।

इस विचार को अगर केंद्र में रखकर सोचे तो इंटरव्यू का मतलब निकलता है – मैं अभी वह हूँ, जिसकी अभी जरूरत है, लेकिन मैं ऐसा ही नहीं हूँ।

आज के समय में ये बातें कितनी प्रासंगिक हैं ये पूरी तरह से व्यक्ति विशेष पर निर्भर करता है।

इंटरव्यू(interview) को समझिए !

इन्टरव्यू का हिन्दी अनुवाद है – साक्षात्कार। साक्षात्कार के शाब्दिक अर्थ को देखे तो इसका संबंध एक दूसरे के सामने उपस्थित होकर बातचीत करने से है।

लेकिन हिंदी में इससे भी अच्छा एक शब्द है जो इसके मूल भाव को प्रदर्शित करता है, वो है – व्यक्तित्व परीक्षण।

इसका संबंध बातचीत के द्वारा किसी व्यक्ति के गुणों और दोषों को बाहर लाने से और उसका परीक्षण और मूल्यांकन करने से है।

Job interview tips and tricks and Things to keep in mind

हमारी सबसे बड़ी समस्या तो ये है कि हम अक्सर कुछ बनना तो चाहते हैं पर उसके लिए खुद को बदलना नहीं चाहते।

मान लेते हैं कि एक व्यक्ति बैंक ऑफिसर बनने के लिए इंटरव्यू देने जा रहा है अब इंटरव्यू बोर्ड तो बस यही देखना चाहेंगे कि आपमें एक बैंक ऑफ़िसर बनने के गुण है या नहीं और यही पता लगाने का एक तरीका है – व्यक्तित्व परीक्षण।

सूचना प्रौद्योगिकी के इस युग में, सभी चीज़ें एक दूसरे के साथ जुड़ी हुई है इसीलिए एक ही चीज़ को अलग- अलग आयामों से देखने पर अलग- अलग मतलब निकलते हैं।

चूँकि मान लेते हैं आपको बैंक ऑफ़िसर बनने के लिए इंटरव्यू देना है तो आपको बैंक को केंद्र में रखकर सारी चीज़ें सोचनी चाहिए या तैयारी करनी चाहिए।

कुछ कॉमन पर व्यक्तित्व परीक्षण के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न हैं, जैसे कि

1. आप ने अपने आप में ऐसा क्या देखा कि आप इस जॉब के लिए अपने आप को उपयुक्त पाते हैं?

2. आप अपनी दो ख़ासियते बताईये या फिर अपनी दो खामियां बताईये?

3. हम आपको ही क्यों चुनें?

4. आपको बैंक की सबसे अच्छी बात क्या लगती है?

5. आप बैंक में ही जॉब क्युं करना चाहते हैं?

6. आपको क्या लगता है कि बैंकों के विलय से बैंक के प्रदर्शन में सुधार आयेगा?

7. RBI को पूर्णरूपेण स्वायत्तता देना कितना सही है?

इस प्रकार के संभावित प्रश्नों की आप एक सूची बना लें, अपने हिसाब से इसका उत्तर खोज लें और उस पर अपना नजरिया स्पष्ट कर लें।

इंटरव्यू के बारे में कुछ आम धारणायें

इन्टरव्यू के बारे में एक आम धारणा ये है कि इन्टरव्यू बोर्ड एक के बाद एक धराधर सवाल पूछते जाते हैं, वो आपको घूरते रहते हैं।

ये बातें निराधार हैं। एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि न ही वे पुलिस है और न आप उनके कस्टडी में रिमांड पर हैं।

दरअसल इंटरव्यू बोर्ड खुद चाहते हैं कि एक ऐसा माहौल तैयार किया जाए जिसमें आप सहज होकर अपनी बात रख सकें, तभी तो सही मायने में वे आपका परीक्षण कर सकेंगे।

अक्सर कपड़ों के बारे में कहा जाता है कि आपके कपड़े ऐसी होनी चाहिए, वैसी होनी चाहिए, हाव- भाव ऐसे होने चाहिए, आँख में आँख मिलाकर बातें करनी चाहिए।

अगर आपकी आँखे झुकती है तो इसे आत्मविश्वास की कमी माना जाएगा।

ये पूरी तरह से सही नहीं है दरअसल इंटरव्यू विषय केंद्रित होता है और ये पूरी तरह से जॉब की प्रकृति पर निर्भर करता है।

मान लीजिए आप एक मॉडल बनने के लिए इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो ऐसी स्थिति में स्वाभाविक है कि वे आपके ड्रेसिंग सेंस, आपके बॉडी लैंग्वेज, अचार-विचार आदि को परखेंगे

पर अगर आप बैंक के लिए इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो उनका मुख्य मकसद तो ये जानना होगा कि आप बैंक की उन्नति और उसके ग्राहकों को खुश रखने के लिए कितने प्रतिबद्ध है।

(हालांकि इसका ये मतलब नहीं है आप कुछ भी पहन कर चले जाएँ)।

Job interview tips and tricks

बनी बनायी धारणाओं से ऊपर उठकर सोचे। अपने आप को और परिष्कृत करें। आपने अभी तक जो भी इंटरव्यू के बारे में सुना है उस पर रिसर्च करे। उसमें से जो सही लगे उसे अपनाये ।

कहने को तो बहुत बातें हैं पर सभी बातें सभी पर लागू नहीं होती। आप पर क्या लागू होगा ये आपसे बेहतर और कोई नहीं समझ सकता।

एक बहुत ही सुंदर वाक्य हैं,”सादा जीवन उच्च विचार” इस पर अमल करें।

अपने सारे जरूरी दस्तावेजों को एकत्रित कर लें, पिछली रात पर्याप्त नींद लें। अगर दिल तेजी से धड़के तो अपनी पसंद की म्यूजिक सुने या फिर कॉमेडी शो देखें।

अगर फिर भी दिल धड़क रहा हो और मन में घबराहट हो एक बात अपने मन को समझाये कि !!!!!!!! वो इंटरव्यू में बैठने वाले लोग……?? आखिर वो भी तो हमारी तरह इंसान ही है…. । इस तरह के विचार मन को मजबूती प्रदान करते हैं।

और एक आखरी बात जो बहुत महत्वपूर्ण है वो हैं -मनोवैज्ञानिक स्तर पर मजबूती।

सचिन तेंदुलकर ने एक बार एक सवाल का जवाब देते हुए कहा था कि “जो मैच मुझे कल खेलना है उसे एक दिन पहले ही मैं अपने मन में खेल चुका होता हूँ।”

इस बात को समझीये और हमेशा अपने दिमाग में रखिये। क्योंकि सही मायने में यही तैयारी है।

……………………..

मधुबनी पेंटिंग्स के बारे मे जानें
madhubani painting

पसंद आया तो शेयर कीजिये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *