आयुष्मान भारत योज़ना । PM JAY in Hindi

इस लेख में हम आयुष्मान भारत योज़ना (PM JAY) पर सरल और सहज चर्चा करेंगे एवं इसके विभिन्न महत्वपूर्ण पहलुओं को समझने का प्रयास करेंगे,

तो इस लेख को अच्छी तरह से समझने के लिए अंत तक जरूर पढ़ें और साथ ही अन्य लेखों को भी पढ़ें, लिंक नीचे दिया हुआ है।

आयुष्मान भारत योज़ना

आयुष्मान भारत योज़ना क्या है?

आयुष्मान भारत योजना, इसे प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना (PM JAY) भी कहा जाता है। प्रधान मंत्री जन-आरोग्य योजना स्वास्थ्य योजनाओं के क्षेत्र में भारत सरकार द्वारा की गयी एक बहुत बड़ी पहल है।

इस योजना का मकसद गरीब और कमजोर आबादी को स्वास्थ्य कवर प्रदान करना है। ताकि यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज के उद्देश्य को प्राप्त किया जा सके।

आंकड़ों के अनुसार हमारी आबादी के लगभग  62.58% लोगों को अपने स्वयं के स्वास्थ्य और अस्पताल के खर्चों के लिए भुगतान करना पड़ता है और उनके पास स्वास्थ्य सुरक्षा के नाम पर किसी भी प्रकार का कोई बीमा कवर नहीं होता है।

अपनी आय और बचत का उपयोग करने के अलावा, लोग अपनी स्वास्थ्य सेवा की जरूरतों को पूरा करने के लिए पैसे उधार लेते हैं या अपनी संपत्ति बेचते हैं। इससे गरीबी बढ़ती है।

इसी को ध्यान में रखकर भारत सरकार द्वारा यह योजना लाया गया ताकि इतनी बड़ी आबादी को बिना किसी वित्तीय कठिनाई का सामना किए बिना अच्छी गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाएँ मिल पाएँ।

इस योजना को अप्रैल 2018 से पूरे भारत में लागू किया गया और इसका क्रियान्वयन राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (national health authority) को सौंपा गया है। कुछ घटनाओं को छोड़ दें तो यह योजना काफी अच्छी है इससे काफी लोग लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

आयुष्मान भारत योज़ना के लाभ

प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना माध्यमिक और तृतीयक अस्पताल में भर्ती के लिए प्रति वर्ष प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक का बीमा कवर प्रदान करता है। इस योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक परिवारों के लगभग 50 करोड़ से अधिक लोगों को शामिल किया जाना है। पूरी तरह से लागू होने के बाद ये विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना बन जाएगा।

इसकी कुछ विशेषताएँ निम्नलिखित है –

  • जरूरत के समय सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज उपलब्ध ।  
  • परिवार के आकार और सदस्यों की उम्र पर कोई पाबंदी नहीं।
  • बालिकाओं, महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को प्राथमिकता।
  • गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं के लिए कैशलेस और पेपरलेस एक्सेस।
  • योग्य लाभार्थी भारत भर में सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • सर्जरी, चिकित्सा, दवाओं की लागत और निदान को कवर करने वाले 1,350 मेडिकल पैकेज।
  • 24X7 हेल्पलाइन नंबर – 14555 पर सूचना, सहायता, और शिकायत के लिए पहुंच सकते हैं।

प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना के तहत उपलब्ध स्वास्थ्य सेवाएँ

कार्यक्रम के तहत शामिल स्वास्थ्य सेवाओं में अस्पताल में भर्ती खर्च, दिन देखभाल सर्जरी(day care surgeries), अनुवर्ती देखभाल (follow-up care), पूर्व और बाद में अस्पताल में भर्ती व्यय लाभ और नवजात बच्चे / बच्चों की सेवाएं शामिल हैं। अभी तक इसमें शामिल किये गए बीमारियों से संबन्धित सेवाएँ निम्नलिखित है।

सेवाओं की व्यापक सूची वेबसाइट पर उपलब्ध है। यहाँ क्लिक करें

आयुष्मान भारत योज़ना का लाभ किसे मिलेगा?

PM-JAY देश भर में 10 करोड़ से अधिक गरीब और कमजोर परिवारों को शामिल करता है, जिन्हें नवीनतम सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना (SECC) के आंकड़ों के अनुसार वंचित ग्रामीण परिवारों और शहरी श्रमिक परिवारों की व्यावसायिक श्रेणियों के रूप में पहचाना जाता है।

संबंधित राज्य सरकार के साथ-साथ संबंधित क्षेत्र के एएनएम / बीएमओ / बीडीओ के साथ पात्र परिवारों की सूची साझा की गई है। केवल ऐसे परिवार जिनका नाम सूची में है, वे PM-JAY के लाभ के हकदार हैं।

इसके अतिरिक्त, 28 फरवरी 2018 तक सक्रिय RSBY(राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना) कार्ड वाले किसी भी परिवार को कवर किया गया है। परिवार के आकार और सदस्यों की उम्र पर कोई कैपिंग नहीं है, जो यह सुनिश्चित करेगा कि सभी परिवार के सदस्यों को विशेष रूप से लड़की और वरिष्ठ नागरिकों को कवरेज मिलेगा।

लाभार्थी प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना  के सेवाओं का लाभ कहाँ उठा सकता है।

लाभार्थी, इस योजना के तहत सभी सार्वजनिक अस्पतालों और इस योजना से जुड़े सभी निजी अस्पतालों में अपना इलाज़ करवा सकता है। इस योजना से जुड़े अब तक के अस्पतालों एवं स्वास्थ्य सेवा संस्थाओं की सूची आप यहाँ देख सकते है। लाभार्थी हेल्पलाइन नंबर 14555 पर कॉल भी कर सकते हैं।

क्या लाभार्थी को सेवाओं के लिए कोई शुल्क भी देना पड़ता है?

नहीं। सभी पात्र लाभार्थी सार्वजनिक अस्पतालों और निजी अस्पतालों में PM-JAY के तहत चिन्हित किए गए पैकेजों के लिए माध्यमिक और तृतीयक अस्पतालों में मुफ्त सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। लाभार्थियों को PM-JAY  के तहत स्वास्थ्य सेवाओं तक कैशलेस और पेपरलेस पहुंच होगी।

PM-JAY में नामांकन कैसे करें?

PM-JAY एक पात्रता आधारित मिशन है। कोई नामांकन प्रक्रिया नहीं है। जिन परिवारों को सरकार द्वारा (ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में) SECC (Socio Economic and Caste Census) डेटाबेस का उपयोग करके वंचित और व्यावसायिक मानदंडों के आधार पर पहचाना जाता है, वे PM-JAY के हकदार हैं।

लाभार्थी को कैसे पहचाना जाता है?

लाभार्थियों की पहचान ग्रामीण क्षेत्रों के लिए SECC (सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना) डेटाबेस और शहरी क्षेत्रों के 11 व्यावसायिक मानदंडों के तहत पहचान किए गए वंचित श्रेणियों (डी 1, डी 2, डी 3, डी 4, डी 5, और डी 7) के आधार पर की जाती है। इसके अलावा, जिन राज्यों में RSBY सक्रिय है वहां RSBY लाभार्थी भी शामिल हैं।

क्या इसमें जिसका नाम नहीं है वो अपना नाम उसमें जुड़वा सकता है?

इस चरण में, PM-JAY के तहत कोई अतिरिक्त नए परिवार नहीं जोड़े जा सकते हैं। हालांकि, उन परिवारों के लिए अतिरिक्त परिवार के सदस्यों के नाम जोड़े जा सकते हैं, जिनके नाम पहले ही SECC सूची में हैं।

PM-JAY कार्ड कैसे प्राप्त करें?

पात्र परिवारों को एक समर्पित PM-JAY परिवार पहचान संख्या आवंटित की जाती है। साथ ही, अस्पताल में भर्ती होने के समय लाभार्थी को एक ई-कार्ड भी दिया जाता है।  

कैसे पता करें आप का नाम है की नहीं

वैसे तो सरकार के तरफ से चिट्ठी भेजी जा रही है लेकिन अगर किसी कारणवश आपके पास चिट्ठी नहीं पहुंची है तो आप नीचे दिये गए तरीकों को अपना कर जान सकते है की आप का या आपके परिवार का नाम इस योजना में है या नहीं –

  1. आप वसुधा केंद्र जिसे कॉमन सर्विस सेंटर भी कहते है वहाँ जाकर पता कर सकते हैं।
  2. 10,000 से अधिक अस्पताल जो इस योजना से जुड़े हुए है आप वहाँ  से भी पता कर सकते है।
  3. हेल्पलाइन नंबर 14555 से कॉल करके भी पता कर सकते है।
  4. यदि आपके पास इंटरनेट है तो आप खुद भी पता कर सकते है । यहाँ क्लिक करके पता करें                                                                                       

Social and Politics

महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना

प्रधानमंत्री जन-धन योजना

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम

दीनदयाल अंत्योदय योजना

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना

बेरोजगारी

बेरोजगारी के कारण

बेरोजगारी के प्रकार

शिक्षित बेरोजगारी

बेरोजगारी के दुष्परिणाम

बेरोज़गारी निवारण के उपाय

जनसंख्या समस्या, उसका प्रभाव एवं समाधान

झंडे फहराने के सारे नियम-कानून

शिक्षा क्या है?: क्या आप खुद को शिक्षित मानते है?

Social and Politics

पसंद आया तो शेयर कीजिये

One thought on “आयुष्मान भारत योज़ना । PM JAY in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *