समाचार और संवाद दोनों जाना-पहचाना और बहुत ज्यादा इस्तेमाल में आने वाला शब्द है। ये होना भी चाहिए क्योंकि हम एक सामाजिक प्राणी है और न सिर्फ सामाजिक प्राणी है बल्कि एक जटिल और व्यापक सामाजिक प्रणाली का हिस्सा है।

इस लेख में हम समाचार (News) और संवाद (conversation) पर सरल एवं सहज चर्चा करेंगे एवं इसके मध्य अंतर जानने का प्रयास करेंगे, जो कि काफी दिलचस्प है और आपको काफी कुछ नया जानने को मिलेगा, तो आइये मेरे साथ; facebook page

समाचार और संवाद में अंतर

| समाचार और संवाद 

आमतौर पर हम ‘हाल-समाचार’ शब्द का उपयोग इतनी बार करते हैं कि हमें यह किसी को कहने के लिए सोचना भी नहीं पड़ता, बस अपने आप ही मुंह से निकल पड़ता है। दरअसल ये हाल समाचार किसी व्यक्ति की वो जानकारी है जो ये बताता है कि अभी वो व्यक्ति कैसा है।

वहीं संवाद की बात करें तो आमतौर पर ये कम से कम दो लोगों के बीच समाचारों या सूचनाओं का आदान-प्रदान है। साधारणतया हम इसे बातचीत भी कहते हैं।

आइये समाचार और संवाद (दोनों) को विस्तार से समझते हैं। और अगर इसमें अंतर हैं तो उसे भी समझने की कोशिश करते हैं;

| समाचार का अर्थ

समाचार का शाब्दिक अर्थ समान आचरण होता है। सम मतलब समान और आचार मतलब आचरण। दूसरे शब्दों मेँ इसे कहें तो इसका मतलब होता है जैसा हो वैसा ही बता दो। यानी कि बिना मसाला लगाये जस के तस जानकारी को जानने वाले के सामने प्रस्तुत कर देना। कहने का अर्थ ये है कि समाचार में निष्पक्षता पर ज़ोर दिया जाता है।

दूसरे शब्दों में कहें तो, ये वे सूचनाएँ होती है जो हाल ही में घटित हुई है या हाल ही में अपडेट हुई है। ये अच्छा भी हो सकता है और बुरा भी, इसके लिए हम ‘अच्छा समाचार और बुरा समाचार’ या ‘अच्छी खबर और बुरी खबर’ शब्द का इस्तेमाल करते हैं।

इसका इंग्लिश मतलब देखें तो ये होता है न्यूज़ या फ़िर इन्फॉर्मेशनसमाचार का एक मतलब NEWS (यानी कि North, East, West और South) भी होता है, इसीलिए कहा जाता है कि उत्तर, दक्षिण, पूरब और पश्चिम अर्थात चारों दिशाओं से आनेवाली सूचना ही समाचार है।

यहाँ ये याद रखिए कि सभी सूचना, समाचार नहीं होती है। आमतौर पर केवल उसी सूचना को समाचार माना जाता है जिसे लोग जानने को उत्सुक हो या जिसमें जन रुचि जुड़ी हो।

Synonyms for news – अंग्रेजी में News शब्द के लिए बहुत सारे समानार्थी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि info, information, intelligence, story, tidings इत्यादि।

पहले इसका प्रयोग ज़्यादातर कुशल क्षेम जानने तक ही सीमित था। लोग एक दूसरे से समाचार पूछते थे, जो जैसा होता था, वैसा बता देता था। पर धीरे-धीरे इसका इस्तेमाल व्यापक तौर पर होने लगा, और जब किसी चीज़ में व्यापकता आती है तो उसके अर्थ में बदलाव आना लाज़िमी हैं।

कुल मिलाकर समाचार एक ऐसी नयी जानकारी होती है जिसके बारे में हमें कुछ भी पता नहीं होता है और इसीलिए हम उसे जानने के लिए उत्सुक रहते हैं।

| संवाद का मतलब

संवाद का शाब्दिक अर्थ होता है समान रूप से कहना या बोलना। सम का मतलब समान और वद का मतलब बोलना होता है।

दो या दो से अधिक लोगों के बीच बातचीत जिसमें विचार एवं भावनाएं व्यक्त किए जाते हैं, प्रश्न पूछे जाते हैं और उत्तर दिए जाते हैं, या समाचार और सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जाता है: संवाद कहलाता है।

◼ इसमें भी एक प्रकार से सामने वाले को जानकारी देने का ही भाव है पर इसमें मसाला लगाने की गुंजाइश होती है। यानी कि अपनी तरफ़ से बहुत कुछ कहने की गुंजाइश होती है। और सामने वाला भी कुछ कहता है।

उदाहरण के लिए आप संवाददाता (correspondent) को ले सकते हैं। जो किसी न्यूज़ चैनल को जानकारी तो दे रहे होते हैं। पर जस का तस न कहकर बहुत कुछ अपनी तरफ से भी उसमें जोड़ देते हैं। और न्यूज़रूम से भी उससे बहुत कुछ पूछा जाता है।

यानी कि वे समाचार कम दे रहें होते हैं संवाद ज्यादा कर रहे होते हैं। लेकिन चूंकि समाचार और संवाद का कुछ इस तरह से सामान्यीकरण हो गया है; हमें ज्यादा इससे फर्क नहीं पड़ता है।

◼ कुल मिलाकर, भावनाओं, टिप्पणियों, या विचारों का मौखिक आदान-प्रदान संवाद है। सरकारों, संस्थानों या समूहों के प्रतिनिधियों द्वारा किसी मुद्दे की अनौपचारिक चर्चा भी संवाद कहलाता है। जैसे कि सांसदों के बीच संवाद।

Synonyms for conversation – अंग्रेजी में संवाद के लिए ‘Conversation’ शब्द का इस्तेमाल किया जाता है और इसके लिए बहुत सारे समानार्थी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि chatcolloquyconversedialogue discoursediscussionexchange इत्यादि।

◼ संवाद एक प्रकार का बातचीत या फ़िर वार्तालाप (Conversation) है। जिसमें कमोबेश दोनों ही तरफ़ की जिज्ञासाएँ शांत होती रहती है। जैसे कि कृष्ण-अर्जुन संवाद, भारत-अमेरिका संवाद, इत्यादि। दूसरे शब्दों में कहें तो दो या दो लोगों के बीच का पारस्परिक क्रियात्मक संचार, संवाद है।

अक्सर जब हमारी किसी से दूरियाँ बढ़ने लगती है जिसे हम कहते हैं संवादहीनता यानी कि Communication gap; तो हम उससे संवाद कायम करने की कोशिश करते हैं। इसी क्रम में हम उसका हाल-समाचार भी पूछ लेते हैं और इसके अलावे भी बातचीत को और आगे बढ़ाते है।

इस प्रकार से देखें तो समाचार जहां थोड़ा सिमटा हुआ सा लगता है वहीं संवाद में बहुत ज्यादा फैलाव नजर आता है। क्योंकि संवाद के दौरान समाचार के अलावा भी कई प्रकार के विचार-विमर्श शामिल होता है। तो हम कह सकते हैं कि समाचार का ही और व्यापक रूप संवाद है।

| समाचार और संवाद में कुल मिलाकर अंतर

समाचार जहां हमारी जिज्ञासा को शांत करने का द्योतक है। वहीं संवाद सम्बन्धों को बेहतर करने का द्योतक है।
समाचार में किसी चीज़ को जस का तस कहने का भाव है। वहीं संवाद में अपनी तरफ से भी बहुत कुछ जोड़ने की गुंजाइश होती है।
समाचार ऐसी जानकारी होती है जिसके बारे में हमें कुछ भी पता नहीं होता है और हम उसे जानने के लिए उत्सुक रहते हैं। संवाद में ये उत्सुकता थोड़ी कम भी हो सकती है।
समाचार एक प्रकार की नयी जानकारी होती है जिसके बारे में हमें पहले पता नहीं होता है। पर संवाद के मामले में हमें कुछ जानकारी पहले भी पता हो सकती है।
समाचार जहां थोड़ा सिमटा हुआ सा लगता है वहीं संवाद में बहुत ज्यादा फैलाव नजर आता है।
संवाद में समाचारों एवं सूचनाओं का पुट होता है जबकि समाचार इसके अलावे हो सकता है।

दो मित्रों के बीच का संवाद

पहला- हैलो पार्टनर ! कैसे हो ?

दूसरा- बढ़िया ! अपना बताओ ?

पहला- अपना भी सब कुछ बढ़िया है, आज कल तुम दिखायी भी नहीं देते हो !

दूसरा- आजकल मैं बाहर जो रहने लगा हूँ, वो एक संस्था से जुड़ा हूँ न !

पहला- अच्छा, क्या करता है वो संस्था।

दूसरा- किसानों की मदद करता है, उत्पादन बढ़ाने का गुर सिखाता है…!

पहला- फिर तो तुम्हें इसकी ट्रेनिंग मिली होगी?

दूसरा- हाँ-हाँ! ट्रेनिंग तो मिलेगा न पार्टनर, बिना ट्रेनिंग के कैसे कोई काम कर सकता है।

पहला- यार ! फिर मेरी भी मदद कर दो, मेरा भी भला हो जाएगा !

दूसरा- हाँ-हाँ, क्यों नहीं पार्टनर !

पहला- तो फिर चलें खेत की तरफ …….

FAQs

  1. समाचार किसे कहते हैं?

    समाचार का शाब्दिक अर्थ समान आचरण होता है। सम मतलब समान और आचार मतलब आचरण। दूसरे शब्दों मेँ इसे कहें तो इसका मतलब होता है जैसा हो वैसा ही बता दो। यानी कि बिना मसाला लगाये जस के तस जानकारी को जानने वाले के सामने प्रस्तुत कर देना। कहने का अर्थ ये है कि समाचार में निष्पक्षता पर ज़ोर दिया जाता है।
    दूसरे शब्दों में कहें तो, ये वे सूचनाएँ होती है जो हाल ही में घटित हुई है या हाल ही में अपडेट हुई है। ये अच्छा भी हो सकता है और बुरा भी, इसके लिए हम 'अच्छा समाचार और बुरा समाचार' या 'अच्छी खबर और बुरी खबर' शब्द का इस्तेमाल करते हैं।

  2. संवाद किसे कहते हैं?

    संवाद का शाब्दिक अर्थ होता है समान रूप से कहना या बोलना। सम का मतलब समान और वद का मतलब बोलना होता है।
    दो या दो से अधिक लोगों के बीच बातचीत जिसमें विचार, भावनाएं और विचार व्यक्त किए जाते हैं, प्रश्न पूछे जाते हैं और उत्तर दिए जाते हैं, या समाचार और सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जाता है: संवाद कहलाता है।

  3. समाचार एवं संवाद में अंतर क्या है?

    समाचार, ये वे सूचनाएँ होती है जो हाल ही में घटित हुई है या हाल ही में अपडेट हुई है।
    वहीं संवाद की बात करें तो आमतौर पर ये कम से कम दो लोगों के बीच समाचारों या सूचनाओं का आदान-प्रदान है। साधारणतया हम इसे बातचीत भी कहते हैं।

| संबन्धित अन्य लेख

<अगर आपको हमारा लेख पसंद आ रहा है तो इसे अपने दोस्तों को शेयर जरूर करें और हमारे अन्य लेखों को भी पढ़ें>